Sunday, November 28, 2021
- विज्ञापन -spot_img
Homeताजा खबरनहीं रही कमला भसीन,मशहूर नारीवादी लेखिका के निधन से शोक की लहर

नहीं रही कमला भसीन,मशहूर नारीवादी लेखिका के निधन से शोक की लहर

VIMARSH NEWS(PATNA) महिला अधिकार कार्यकर्ता, कवयित्री और लेखिका कमला भसीन का 75 वर्ष की आयु में निधन हो गया. शनिवार की अहले सुबह करीब तीन बजे कमला भसीन ने अंतिम सांस ली. भसीन भारत और अन्य दक्षिण एशियाई देशों में महिला आंदोलन की एक प्रमुख आवाज थीं. उनकी मौत से भारत और दक्षिण एशियाई क्षेत्र में महिला आंदोलन की आवाज को बड़ा झटका लगा है. विपरीत परिस्थितियों में भी कमला भसीन ने जिंदादिली से जीवन का लुत्फ उठाया


कमला भसीन के देहावसान की खबर से पूरे देश में साहित्याकार, समाजसेवी और मानवाधिकार कार्यकर्ता मर्माहत हैं। देशभर से लोग कमला भसीन के लिए श्रद्धांजलि संदेश भेज रहे हैं इतिहासकार इरफान हबीब ने भी कमला भसीन को याद करते हुए लिखा, प्रिय मित्र और असाधारण इंसान कमला भसीन के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ. हम कल ही उनके स्वास्थ्य के बारे में चर्चा कर रहे थे लेकिन यह कभी नहीं सोचा था कि वह अगले दिन हमें छोड़ देंगी. आप बहुत याद आएंगी.

बताते चलें कि बिहार से कमला भसीन का खास जुड़ाव था। 1977 के बाद देश में जो जनतांत्रिक परिवेश बना उसमें मानवाधिकार आन्दोलन , नारीवादी आन्दोलन का खूब विस्तार हुआ और ये विचार पहली बार किताबों से बाहर निकल कर सड़कों पर आम आदमी की आवाज बनकर आए. उसी दौर में 80 के दशक से दिल्ली में नारीवाद की जो प्रखर आवाज थीं, उनमें से एक कमला भसीन थीं।कमला भसीन ने खुद बच्चों के लिए कविताओं की ऐसी किताब लिखी जो बहुत लोकप्रिय हुई। कमला भसीन की कविताओं ने बच्चों में लिंग भेद की भावना को खत्म करने की दिशा में बड़ा काम किया। पटना शहर के नारीवादियों के आयोजनों में कमला भसीन आती रही हैं और 2019 में नूतन स्मृति व्याख्यान माला में वक्ता के रूप में कमला जी अंतिम बार पटना आईं थीं।


कमला भसीन के निधन पर अभिनेत्री शबाना आजमी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि तेजतर्रार कमला भसीन ने अपनी आखिरी लड़ाई, गायन और जीवन को अच्छी तरह से जीने के जश्न के साथ पूरी की. उनकी कमी हमेशा खलेगी. उनकी साहसी मौजूदगी, हंसी और गीत, उनकी अद्भुत ताकत उनकी विरासत है. हम सब इसे संजोकर रखेंगे जैसा हमने पहले अरुणा रॉय के लिए किया

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -spot_img

मोस्ट पॉपुलर

रीसेंट कॉमेंट